BBA kya hai [BBA Course Details in Hindi] – BBA Full Form in Hindi

500

क्या आप जानते हैं कि BBA kya hai और बीबीए की फुल फॉर्म क्या होती है (BBA Full Form in Hindi) ? यदि नहीं जानते हैं और आपके अन्दर नई चीजों के बारे में जानने की जिज्ञासा है तो आप बिल्कुल सही जगह आये हैं | यहाँ पर हम आपको BBA kya hota hai के साथ साथ इससे सम्बंधित कई जानकारियां जैसे BBA kaise kare, बीबीए के लिए योग्यता, BBA kitne saal ka hota hai, BBA karne ke fayde क्या हैं इत्यादि देने वाले हैं और इसका मतलब यह है कि हम आपको इस आर्टिकल में BBA Course Details in Hindi से सम्बंधित पूर्ण जानकारी देने वाले हैं |

संक्षेप में यदि बताया जाए तो BBA एक course है जिसे करने पर आपक स्नातक की डिग्री प्राप्त होती है और इस स्नातक डिग्री को करने के लिए 12 वीं के बाद दाखिला लिया जा सकता है | BBA का फुल फॉर्म “बेचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेटिव” होता है (BBA kya hai) और इसमें आप व्यवसाय प्रबंधन (Business Management) से जुड़ी चीजे सीखते है।

यदि आप अपने career को लेकर परेशान हैं और यह सोच रहे हैं कि 12 वीं के बाद कौन सा course किया जाए तो यदि आपकी रुचि व्यवसाय करने में है तो BBA आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है | BBA करने के बाद Higher Study के रूप में आप MBA (Master of Business Administration) भी कर सकते हैं |

यदि आप BBA (Course) को चुनते हैं और इससे सम्बंधित प्रत्येक जानकारी (BBA Course Details in Hindi ) प्राप्त करना चाहते हैं तो इस लेख को अंत तक पढ़ते रहिये |

BBA Kya Hai (What is BBA in Hindi)

BBA का शाब्दिक अर्थ “बैचलर ऑफ़ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन” होता है (BBA kya hai) और यह एक स्नातक डिग्री है जिसे 12वीं कक्षा के बाद क्या जा सकता है। यदि आप इस course को किसी अच्छे इंस्टिट्यूट से पूरी लगन और मेहनत के साथ करते हैं तो आप जॉब के लिए apply करने पर एक अच्छी जॉब पा सकते हैं और यदि आपका मन जॉब करने का नहीं है तो आप यहाँ से मिली शिक्षा के आधार पर अपना कोई व्यवसाय आरम्भ कर सकते हैं क्योंकि इस कोर्स में आपको Business Management से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण चीजे सिखायी जाती है।

BBA Ka Matlab क्या होता है (BBA Meaning in Hindi) एवं BBA Course Kya Hai यह तो अब आप अच्छे से समझ ही गए होंगे, अब आगे बीबीए का फुल फॉर्म एवं बीबीए कोर्स से सम्बंधित जानकारी विस्तार से जानते है।

What is BBA

BBA Full Form In Hindi

बीबीए का फुल फॉर्म – “Bachelor of Business Administration” होता है जिसे हिंदी में “व्यवसायिक प्रबंधन में स्नातक” कहा जाता है |

B – Bachelor of
B – Business
A – Administration

BBA Course Details in Hindi

BBA kya hai और BBA Full Form in Hindi को आपने जाना और अब आप BBA से सम्बंधित अन्य कई जानकारियां जानेंगे इसलिए लेख को आगे पढ़ते रहें –

  • BBA का फुल फॉर्म “Bachelor Of Business Administration – व्यावसायिक प्रबंधन में स्नातक होता है
  • BBA करने के लिए 12 वीं कक्षा में आपके पास कॉमर्स विषय का होना आवश्यक है क्योंकि कॉमर्स विषय वाले स्टूडेंट्स ही BBA में दाखिला ले सकते हैं
  • BBA एक ऐसा कोर्स है जो स्नातक की डिग्री प्रदान करता है
  • BBA का first year सभी स्टूडेंट्स के लिए common होता है लेकिन second year में आते ही प्रत्येक स्टूडेंट को Finance, Marketing, Human Resource Management में से किसी एक विषय को चुनना होता है
  • BBA के कुछ मुख्य विषय एकाउंटिंग, मैथेमैटिक्स, इकोनॉमिक्स, बिजनेस ऑर्गनायज़ेशन एंड सिस्टम इत्यादि हैं
  • BBA Course की कुल अवधि 3 वर्ष होती है जिसके दौरान कुल 6 सेमेस्टर पढने होते हैं
  • BBA में दाखिला लेने के लिए आपको CAT का एंट्रेंस एग्जाम qualify करना होता है लेकिन कुछ collage ऐसे हैं जो 12 वीं के अंकों के आधार पर दाखिला दे देते हैं

BBA kaise kare (BBA Ke Liye Kya Kare ) ?

BBA kya hai यह जानने के बाद यदि आपने BBA करने का मन बना लिए है तो सर्वप्रथम आप उन सभी collages की list तैयार करें जहाँ पर BBA course ऑफर किया जाता है फिर उन सभी Collages की जांच पड़ताल करें कि कौन सा Collage ज्यादा अच्छा है | अच्छे collages की एक अलग list बना लीजिये फिर यह जानिये कि जो list आपने तैयार की है उनकी चयन प्रक्रिया क्या है क्योंकि कुछ Collage ऐसे होते हैं जो CAT एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर दाखिला देते हैं तो कुछ Collage 12 वीं कक्षा के अंकों के आधार पर दाखिला देते हैं |

बीबीए के लिए योग्यता

  1. 12वीं कक्षा में कम से कम 50% अंक होने चाहिए लेकिन कुछ प्रमुख कॉलेज ऐसे भी हैं जिनमें प्रवेश पाने के लिए 60% अंकों का होना अनिवार्य है
  2. बीबीए कोर्स करने के लिए उम्मीदवार का किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कक्षा 12वीं कक्षा में उत्तीर्ण होनाअनिवार्य है
  3. ऐसे छात्र जो 12वीं की परीक्षा दे रहे है और रिजल्ट घोषित होने का इंतज़ार कर रहे है वे सभी क्षात्र भी बीबीए कोर्स के लिए आवेदन कर सकते है
  4. एंट्रेंस एग्जाम में उत्तीर्ण होना आवश्यक है

बीबीए करने के फायदे (BBA Karne Ke Fayde)

  • बीबीए करने के बाद आप आप सरकारी, गैर सरकारी क्षेत्र और आईटी इंडस्ट्री में जॉब कर सकते हैं
  • बीबीए कोर्स के दौरान आप बहुत सारी कॉर्पोरेट एक्टिविटीज सीखते हैं
  • बीबीए कोर्स करने के बाद आपके पास ऐसी काबिलियत आ जाती है जिससे कि आप आने वाले समय में आसानी से अपना कोई भी व्यवसाय आरम्भ कर सकते हैं
  • यदि आप BBA के बाद MBA करना चाहते हैं तो यह आपका एक अच्छा निर्णय साबित हो सकता है जिसके बाद आपको कई बेहतरीन क्षेत्रों में रोजगार के अच्छे अवसर मिल जाते हैं
  • BBA Course से सम्बंधित यह डिग्री एक ऐसी डिग्री है जो किसी भी स्टूडेंट को आत्मविश्वासी बनना सिखाती है जिसके बाद वह स्टूडेंट एक बड़ी team या फिर एक बड़ी कंपनी को सँभालने के लिए सक्षम हो जाता है

बीबीए के लिए प्रवेश परीक्षा

CAT Entrance Exam के अलावा कई अन्य एंट्रेंस एग्जाम भी हैं जिनके आधार पर आप BBA के लिए प्रवेश पा सकते हैं और इन सभी प्रवेश परीक्षाओं को स्टूडेंट्स के लिए प्रत्येक वर्ष आयोजित करवाया जाता है जिनमे स्टूडेंट अपनी 12 वीं कक्षा के बाद शामिल हो सकता है | यदि आप भी 12 वों के बॉस बीबीए की पढाई करना चाहते हैं तो नीचे सारणीबद्ध प्रवेश परीक्षाओं को चुनें |

  1. UGAT
  2. NPAT
  3. BHU UET
  4. IPMAT
  5. AUMAT
  6. FEAT
  7. AIMA UGAT – यह एक स्टैंडर्डाइज़्ड परीक्षा है जिसे विभिन्न अंडर ग्रेजुएशन कार्यक्रमों जैसे कि इंटेग्रेटेड़ एमबीए, आईएमबीए, बीबीए, बीएचएम, बीकॉम, बीसीए, बीबीए इत्यादि के लिए आयोजित करवाया जाता है
  8. SET – SET का पूरा नाम सिम्बायोसिस एंट्रेंस टेस्ट है और यह एग्ज़ाम सिम्बायोसिस इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी के द्वारा बीकॉम, बीसीए, बीबीए आदि जैसे विभिन्न कोर्स मैं प्रवेश लेने के लिए आयोजित किया जाता है
  9. IPU CET  (इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी कॉमन एंट्रेंस टेस्ट) – यह एक विश्वविद्यालय स्तर की प्रवेश परीक्षा है जो छात्रों को अंडर ग्रेजुएशन कोर्स में प्रवेश लेने के लिए आयोजित की जाती है

बीबीए एंट्रेंस एग्ज़ाम की तैयारी कैसे करे

  1. पेपर के पैटर्न को समझें
  2. टाइम टेबल बनायें और निरन्तर उसका अनुसरण करें
  3. प्रैक्टिस पेपर सोल्व करें और समय समय पर रिवाइज़ करते रहें

पेपर के पैटर्न को समझें

यदि आप बीबीए एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी कर रहे हैं तो सबसे पहले एंट्रेंस एग्जाम के पुराने पेपरों को देखें और पेपर के पैटर्न को समझें, ऐसा करने पर आपको यह समझ आ जायेगा कि बीबीए एंट्रेंस एग्जाम में किस तरह के सवालों को ज्यादा पूछा जाता है | उन सवालों को आधार बनाकर अग्रिम तैयारी करें और यदि आप ऐसा करते हैं तो आपको तैयारी करने में आसानी होगी |

टाइम टेबल बनायें और निरन्तर उसका अनुसरण करें

किसी भी एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करने के लिए टाइम टेबल का अनुसरण करना एक मुख्य कदम होता है इसलिए सदैव अपना एक टाइम टेबल बनायें और निरन्तर उस टाइम टेबल का पालन करें | टाइम टेबल के अनुसार तैयारी करने से आपका समय भी बचता है और कम समय में आप ज्यादा preparation कर पाते हैं |

टाइम टेबल को हमेशा यह ध्यान में रखते हुए तैयार करें कि जिस विषय में आप थोड़े कमजोर हैं उस विषय को ज्यादा समय दें और जिस विषय में आप अच्छे हैं उस विषय में अपना ज्यादा वक़्त बर्वाद ना करें | यदि आप टाइम टेबल का अनुसरण करते हुए अपने एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करते हैं तो आप कम समय में अच्छी सफलता प्राप्त कर सकते हैं |

प्रैक्टिस पेपर सोल्व करें और समय समय पर रिवाइज़ करते रहें

एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करते वक़्त इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि प्रैक्टिस पेपर सोल्व करना बहुत जरूरी है क्योंकि प्रैक्टिस पेपर सोल्व करने से एग्जाम में लिखने की आदत बनती है और आपको एग्जाम में क्या लिखना है क्या नहीं लिखना है इसका आईडिया लग जाता है | प्रैक्टिस पेपर के साथ साथ आपने जो पढ़ा है उसका रिविजन भी बहुत जरूरी है इसलिए समय-समय पर अपना रिविजन करते रहें |

BBA के लिए आवेदन प्रक्रिया 

बीबीए कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आवेदन प्रक्रिया :-

  • विश्वविद्यालय की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएँ और रजिस्ट्रेशन करें
  • रजिस्ट्रेशन करने के बाद आपको यूजर आईडी और पासवर्ड मिलता है जिनकी मदद से साइन इन करें और अपना कोर्स चुनें जिसे आप चुनना चाहते हैं
  • अपनी सम्पूर्ण शैक्षणिक जानकारी भरें
  • शैक्षणिक योग्यता के साथ  IELTS, TOEFL, प्रवेश परीक्षा स्कोर, SOP, LOR की जानकारी भरें
  • यदि BBA में दाखिला लेने से पहले आपने कहीं पर कोई नौकरी की है तो पिछले सालों की नौकरी की जानकारी भरें
  • रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान करें
  • अंत में आवेदन पत्र जमा करें

BBA के दौरान पढ़े जाने वाले मुख्य विषय (बीबीए विषय)

BBA kya hai यह जानने के बाद BBA के दौरान पढ़े जाने वाले मुख्य विषयों को भी जानियें और यदि आप BBA करते हैं तो आपको सारणीबद्ध नीचे के सभी विषयों के साथ साथ अन्य कई विषय भी पढने होंगे |

  1. अर्थशास्त्र
  2. आंकड़े
  3. व्यापार अर्थशास्त्र
  4. व्यापार नैतिकता
  5. अंतर्राष्ट्रीय व्यापार
  6. लेखा
  7. ब्रांड प्रबंधन
  8. संचालन प्रबंधन
  9. सामान्य प्रबंधन
  10. आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन
  11. मार्केटिंग
  12. व्यापार गणित
  13. उद्यमशीलता
  14. मार्केटिंग स्ट्रेटेजीज
  15. नागरिकशास्र
  16. प्रबंधन सिद्धांत
  17. मानव संसाधन प्रबंधन

Top 18 BBA Specializations In India

अभी तक आपने जाना कि BBA kya hai, बीबीए का फुल फॉर्म क्या होता है इत्यादि और अब आप यह जानेंगे कि किन-किन Spalizations में भारत देश में BBA का कोर्स हो सकता है |

  1. BBA in Business Administration
  2. BBA in International Business
  3. BBA in Computer Application
  4. BBA in Global Business
  5. BBA in Information Systems
  6. BBA in Human Resource Management
  7. BBA in Finance
  8. BBA in Entrepreneurship
  9. BBA in Management
  10. BBA in Hospitality
  11. BBA in Human Resources
  12. BBA in Marketing
  13. BBA in Tourism
  14. BBA in Hospital & Healthcare
  15. BBA in Supply Chain
  16. BBA in Sports Management
  17. BBA in Accounting
  18. BBA in Retail

Top 3 Specialization in BBA

  1. BBA in Marketing
  2. BBA in Finance
  3. BBA in Human Resource Management

Conclusion

उपरोक्त आर्टिकल “BBA kya hai [BBA Course Details in Hindi] – BBA Full Form in Hindi” में आपने जाना BBA kya hai, बीबीए का फुल फॉर्म क्या होता है, बीबीए के लिए योग्यता, बीबीए करने के फायदे, बीबीए के लिए प्रवेश परीक्षा कौन कौन सी हैं इत्यादि | जिन्हें पढ़कर आपके लगभग सभी सवालों के जबाब मिल गए होंगे और यदि उपरोक्त के अलावा भी आप सम्बंधित कुछ जानना चाहते हैं तो हमें comments के माध्यम से अवश्य बताएं | हम प्रयास करेंगे कि जल्द से जल्द आपके सभी सवालों के जबाब हम दे पायें |

यह भी जानिये : – How to Join Indian Army : इंडियन आर्मी में जाना क्या आपका भी सपना है ?

 

 

Previous articleKYC Full Form in Hindi – KYC क्या होता है और क्यों है जरूरी ?
Next articleNews Reporter Kaise Bane / पत्रकार कैसे बनें ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here