Sub Inspector kaise bane – SI Police Qualification in Hindi

426

SI police qualification : मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी स्ट्रीम में  Bachelor’s  डिग्री

Two Star की चमक की ओर आकर्षण और देश की सेवा करने का जज्बा यह काफी है किसी के Sub Inspector बनने के लिए | भारत में नयी जनरेशन के बच्चे जो सरकारी विभागों में भर्ती के लिए तैयारी कर रहे है उनमें से कई बच्चे सब इंस्पेक्टर बनना चाहते होंगे क्योंकि पुलिस विभाग में सेवा करने का जुनून और कन्धों पर लगे और चमचमाते दो स्टार उन्हें अपनी ओर आकर्षित करते हैं |

आज के इस आर्टिकल में हम कई विषयों से सम्बंधित जानकारियां जैसे Sub Inspector kaise bane, SI police qualification, Sub Inspector के लिए Age, तथा Sub Inspector की सैलरी कितनी होती है इत्यादि देने वाले हैं, यदि आप भी SI बनने की तैयारी कर रहे हैं या उपरोक्त सभी जानने की इच्छा रखते हैं तो इस आर्टिकल को अन्त तक जरूर पढ़ें |

What is the role of Sub Inspector

सब इंस्पेक्टर पुलिस विभाग में lowest ranked officer होता है जिसे विभाग के सभी कांस्टेबल तथा हेड कांस्टेबल रिपोर्ट करते हैं और सभी केस की शुरुआत (इन्वेस्टीगेशन ) एक sub inspector के द्वारा ही प्रारम्भ की जाती है इसलिए सब इंस्पेक्टर को इन्वेस्टीगेटिंग ऑफिसर (IO ) के नाम से भी पुकारा जाता है |

जनता द्वारा सभी रूल्स और रेगुलेशन को फॉलो कराना और क़ानून व्यवस्था को बनाये रखना तथा कोर्ट में चार्ज शीट को दाखिल करना एक sub inspector का मुख्य कार्य होता है |

सब इंस्पेक्टर बनने के लिए क्या शैक्षिक योग्यता होनी चाहिए (SI police qualification) ?

SI Police Qualification : सब इंस्पेक्टर बनने के लिए आपके पास किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से Bachelor’s  डिग्री का होना अनिवार्य है अर्थात ग्रेजुएट होने के बाद ही आप सब इंस्पेक्टर बनने के लिए एप्लीकेबल हो पायेंगे और एग्जाम में शामिल हो पाएंगे | यदि आप ग्रेजुएट नहीं हैं तो सर्वप्रथम आपको आपके ग्रेजुएशन की पढाई पूरी करनी होगी तथा उसमें उत्तीर्ण होना होगा |

सब इंस्पेक्टर के कितने स्टार होते हैं ?

पुलिस की वर्दी पहने इंसान की रैंक का पता आप उनके कंधे पर लगे स्टार से पता लगा सकते हैं, जैसे कि हम बात कर रहे हैं Sub Inspector की तो सब इंस्पेक्टर के कंधे पर 2 स्टार लगे होते हैं जो उनकी वर्दी की शोभा को बढ़ाते हैं |

Sub Inspector Salary in india (सब इंस्पेक्टर का कितना वेतन होता है) ?

Sub Inspector ki salary प्रत्येक राज्य में भत्तों के अनुसार अलग अलग होती है, यदि बात की जाए मेट्रो सिटीज की तो वहां सभी भत्ते ज्यादा होते हैं इसलिए वहां एक सब इंस्पेक्टर की सैलरी ज्यादा बनती है और यदि बात की जाए साधारण शहरों की तो वहां भत्ते कम होने के कारण वहां के SI की सैलरी तुलना में कम बनती है |

भारत में देखा जाए तो एक सब इंस्पेक्टर का औसतन वेतन लगभग 45,000 रूपए (सभी भत्तों को मिलाकर) प्रतिमाह बनता है जो कि अलग-अलग राज्यों में कम तथा ज्यादा हो सकता है |

Selection Process (चयन प्रक्रिया)

  • Sub Inspector written examination
  • Documents Verification
  • Physical Test

Written Examination

सब इंस्पेक्टर बनने के लिए चयन प्रक्रिया का प्रथम पड़ाव लिखित परीक्षा है जिसे उत्तीर्ण करना आवश्यक है, इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने के बाद ही आप दूसरे पड़ाव पर पहुँच सकते हैं |

लिखित परीक्षा के लिए पाठ्यक्रम प्रत्येक राज्य अपने हिसाब से तय करता है यहाँ हम उत्तराखंड राज्य के SI पाठ्यक्रम (Uttarakhand Police Sub Inspector Syllabus) के बारे में बात करने जा रहे हैं | यहाँ SI का एग्जाम 300 अंक का होता है तथा 2 भागों में विभाजित होता है अर्थात सब इंस्पेक्टर बनने के लिए आपको 2 पेपर लिखने होते हैं |

पेपर 1 में सामान्य हिन्दी पूछी जाती है जिसमें कुल 100 प्रश्न होते हैं जिनको करने के लिए 1 घंटे का समय दिया जाता है | यह सभी 100 प्रश्न 100 अंक (1 प्रश्न के लिए 1 अंक) के होते हैं |

पेपर 2 में सामान्य अध्यन, रीजनिंग तथा अंकगणितीय क्षमता के बारे में पूछा जाता है और यह प्रश्नपत्र कुल 200 अंकों का होता है जिसमें सामान्य अध्यन के 50 अंक (50 प्रश्न), रीजनिंग के 75 अंक (75 प्रश्न) तथा अंकगणतीय क्षमता के 75 अंक (75 प्रश्न) होते हैं, इस तरह पेपर 2 कुल 200 अंकों का हो जाता है | पेपर 2 को सोल्व करने के लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है |

इस तरह सब इंस्पेक्टर का यह प्रश्नपत्र कुल 300 अंकों का होता है जिसके लिए कुल समय 3 घंटे होते हैं |

Document Verification

यदि आप लिखित परीक्षा में उत्तीर्ण हो जाते हैं तो आपको दूसरे पड़ाव डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए बुलाया जाता है जहाँ पर आपके सभी दस्तावेज जांचे जाते हैं | यह प्रक्रिया वेहद ही आसान है क्योंकि यदि आपके सभी डाक्यूमेंट्स पूरे हैं तो आपका तीसरे पड़ाव Physical Test में जाना तय है |

Physical Test 

Physical Test चयन प्रक्रिया का अंतिम पड़ाव होता है, यहाँ पर उन सभी को आमंत्रित किया जाता है जो लिखित परीक्षा उत्तीर्ण कर अपना डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन करा चुके होते हैं | यहाँ सर्वप्रथम शारीरिक मापदण्ड होती है तथा physical activity जैसे दौड़ (200 मीटर 40 सेकेंड में), लम्बी कूद, रस्सी कूद, बौल थ्रो इत्यादि में भाग लेकर उन्हें क्वालीफाई करना होता है |

uttarakhand police – Career and Recruitment

यह भी जानिये –त्तराखंड पुलिस द्वारा प्रारम्भ किया गया Gaura Shakti App : क्या है, कैसे install करें तथा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें ?

उम्मीद करते हैं कि उपरोक्त जानकारी आपको पसन्द आई होगी, यहाँ हमने अपने पाठकों को Sub inspector से सम्बंधित जानकारी जैसे सब इंस्पेक्टर का क्या रोल होता है, सब इंस्पेक्टर का वेतन, कंधे पर कितने स्टार होते हैं, चयन प्रक्रिया तथा SI Police Qualification इत्यादि देने का प्रयास किया है | आपको यदि लगता है कि यह आर्टिकल किसी का भविष्य बनाने में सहायक हो सकता है तो इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें |

 

 

Previous article1 & only Best Security Camera for home
Next articleHow to use Google Trends for SEO in hindi – Blogging का No.1 Tool

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here