क्या आपको पता है कि भारत में गाय को गौ धन क्यों माना जाता है ?

हमारे भारत देश में हमेशा से ही गाय को माँ का दर्जा दिया गया है तथा उसे गौमाता पुकारा जाता है और यह भी सच है कि भारत देश में गाय को गौ धन माना जाता है | भारत एक मात्र ऐसा देश है जहाँ पर गाय की पूजा की जाती है | वैज्ञानिक दृष्टि से देखा जाए तो गाय के कई लाभ हैं, जिन्हें हम आगे लेख में जानेंगे |

हमारे बुजुर्गों द्वारा हमेशा ही बताया गया है कि गाय का दूध अत्यधिक पौष्टिक होता है, और मानव जीवन में गाय के दूध को तरह तरह से प्रयोग में लाया जाता है और गाय के दूध से कई तरह के पौष्टिक पकवान भी बनाये जाते हैं |
जैसा कि आपको पता ही होगा कि हिन्दू धर्म में गौ- मूत्र की अत्यधिक महत्ता है क्योंकि गौ-मूत्र मानव शरीर के कई रोगों को दूर करने में सहायक होता है | गौ-मूत्र के साथ-साथ गाय का गोबर भी बहुत उपयोगी है | कोई भी शुभकार्य करने से पहले गाय के गोबर का लेप लगाया जाता है, तथा गाय के गोबर से बने उपलों को हवन में प्रयोग किया जाता है |

क्यों माना जाता है गाय को गौ धन ?

गाय एक ऐसा धन है जिसके कई प्रयोग तथा कई लाभ होते हैं | प्राचीन तथा वर्तमान समय में गाय का दान करना पुण्य माना जाता है और हिन्दू धर्म में गाय का दान बेटी को किया जाता है | गाय का दान करने के पीछे हमेशा से मकसद यही रहा है कि हमारे वुजुर्ग जानते थे कि गाय एक ऐसा धन है जिसके प्रयोग से हमारी पीढियां हमेशा स्वस्थ्य रहेंगी | यही कारण है कि भारत में बहुत पुराने समय से ही गाय को गौ-धन माना जाता है |

मानव जीवन में गाय,गौमूत्र तथा गाय के गोबर के क्या उपयोग हैं तथा इनकी क्या महत्ता है ? ( गौ धन )

  • गाय के दूध में कैरोटीन नामक पदार्थ पाया जाता है, जो कि आँखों की रोशनी को बढाता है | इसलिए बचपन से ही बच्चों को गाय के दूध का सेवन करवाया जाता है |
  • गाय के दूध को पीने से मनुष्य की याददास्त भी तेज होती है |
  • गाय के दूध से सुद्ध देशी घी बनाया जाता है, जिसका प्रयोग मुख्यतः हिन्दू धर्म में होने वाले यज्ञ तथा हवनों में किया जाता है | विशेषज्ञों द्वारा बताया जाता है कि 1 तोला घी से यज्ञ करने से 1 टन ऑक्सीजन बनती है |
  • गाय के गोबर की गंध से क्षय रोग के कीटाणु मार जाते हैं, जिसकी वजह से मनुष्य हमेशा स्वस्थ्य रहता है  तथा इसमें हैजे के कीटाणुओं को नष्ट करने की भी अपार शक्ति होती है |
  • विशेषज्ञों द्वारा हमेशा से ही बताया गया है कि ब्लड प्रेशर की बीमारियों को ठीक करने में गाय का महत्वपूर्ण योगदान रहता है | गाय के शरीर में रोजाना हाथ फेरने से ब्लड प्रेशर की बीमारी ठीक हो जाती है |
  • दिल की बीमारियों से बचने के लिए गाय के दूध का सेवन किया जाता है, यदि कोई मनुष्य लगातार लम्बे समय तक गाय के दूध का सेवन करता है तो उसे किसी भी प्रकार की दिल की बीमारी नहीं होती है |
  • गाय के दूध में रेडिओ विकिरण से रक्षा करने की अपार शक्ति होती है |
  • यदि आपके शरीर में दाद,खाज,खुजली तथा किसी भी प्रकार का घाव हुआ है तो गाय का गोबर आपके लिए बहुत उपयोगी हो सकता है, दाद खाज तथा घाव वाली जगह में गोबर लगाने से उपरोक्त सभी बीमारियाँ जल्दी ठीक हो जाती हैं |

गाय की पूजा करने से होती है इच्छाओं की पूर्ति

धार्मिक आस्था के अनुसार गाय की पूजा करने से मानव जीवन की सभी इच्छाओं की पूर्ति होती है |जैसा कि गाय को माँ का दर्जा दिया गया है, तो माँ के एक रूप को पूजने के लिए भी गाय की ही पूजा की जाती है | गाय की सींग में ब्रहमा, विष्णु तथा महेश तीनों देवताओं का निवास होता है | इसलिए कहा जाता है कि यदि आप गाय की पूजा करते हैं तो कई देवी देवताओं के समक्ष आपकी श्रद्धा अर्पित हो जाती है | इसलिए कहा जाता है कि सच्चे मन से की जाने वाली गौमाता की पूजा कभी असफल नहीं होती और भक्तों की इच्छाओं की पूर्ति अवश्य होती है |

क्यों-माना-जाता-है-गाय-को-गौ-धन

Visit : http://explanationinhindi.com/

[su_box title=”पाठकों से एक छोटी गुजारिश ” style=”soft”]उम्मीद करते हैं कि आज का यह लेख सभी पाठकों को पसंद आया होगा | गौ- माता की सेवा करने वाले प्रत्येक मानव का कर्त्तव्य है कि वह गौ-माता के महत्त्व को जाने तथा जन-जन तक गाय की उपयोगिता को पहुंचाए | इसलिए आप सभी पाठकों से विनम्र निवेदन है कि इस लेख को अधिक से अधिक शेयर करें | लेख को शेयर करने के लिए आप सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, ट्विटर तथा इन्स्टाग्राम इत्यादि का प्रयोग भी कर सकते हैं | धन्यवाद[/su_box]

Previous articleसत्य और अहिंसा के पुजारी Mahatma Gandhi जी का जीवन परिचय (Biography)
Next articleBiography of Rubina Dilaik

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here