Human Trafficking in India- मानव तस्करी क्या है और क्या हैं मानव तस्करी के कारण

524

Human Trafficking यानि मानव तस्करी यूँ तो सम्पूर्ण विश्व में एक चिन्ता का विषय है किन्तु आज हम बात करने जा रहे हैं भारत में होने वाले मानव तस्करी के बारे में, यहाँ हम जानेंगे कि मानव तस्करी क्या है, मानव तस्करी के प्रकार क्या हैं, मानव तस्करी को रोकने के उपाय क्या हैं तथा मानव तस्करी की धारा और सम्बंधित कई जानकारियां | यदि आप Human Trafficking के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को अन्त तक जरूर पढ़ें |

क्या है मानव तस्करी ?

किसी भी व्यक्ति से उसकी इच्छा के विपरीत बल का प्रयोग कर डरा धमका कर या बंधक बनाकर कोई काम करवाना मानव तस्करी की श्रेणी में आता है | मानव तस्करी कर उनसे देह व्यापार के मामले भारत में सबसे ज्यादा पाए जा रहे हैं और देह व्यापार के अलावा छोटे बच्चों का अपहरण कर उन्हें किसी दूर दराज की जगह में बेचकर उनसे जबरन कोई कार्य करवाने के भी कई मामले सामने आते हैं |

मानव तस्करी की परिभाषा :  संयुक्त राष्ट्र की परिभाषा के अनुसार किसी व्यक्ति पर बल का प्रयोग कर उसे डरा धमका कर तथा बंधक बना कर जबरन कोई कार्य कराना मानव तस्करी कहलाता है |

कुछ लोगों का सोचना है कि यदि किसी व्यक्ति को गैरकानूनी तरीके से देश के बाहर ले जाया जा रहा है या बेचा जा रहा है बस वह ही Human Trafficking  है किन्तु ऐसा बिलकुल भी नहीं है | मानव तस्करी की श्रेणी में कई ऐसे कार्य हैं जिन्हें भारत में अंजाम दिया जा रहा है |

यदि हम बात करें भारत में होने वाली मानव तस्करी के बारे में तो भारत में मानव तस्करी निम्न कार्यों के लिए की जाती है |

  • देह व्यापार
  • बच्चों से भीख मंगवाना
  • कम उम्र में बचों से जबरन मजदूरी करवाना
  • शारीरिक अंगों के व्यापार जैसे घिनौने काम के लिए भी मानव तस्करी की जाती है
  • मनुष्य की गरीबी का फायदा उठाकर उनसे नशीली दवाइयों या नशे का व्यापार करवाया जाता है जो कि मानव तस्करी की श्रेणी में आता है

मानव तस्करी (Human Trafficking) को कैसे रोकें ?

वैसे तो मानव तस्करी को रोकने के लिए केन्द्र सरकार तथा राज्य सरकारों के द्वारा काफी सराहनीय कार्य किये जा रहे हैं | एक तरफ भारत के प्रधानमन्त्री द्वारा सयुंक्त अरब अमीरात के साथ मिलकर आपसी सहयोग से मानव तस्करी को रोकने के लिए प्रयास किया जा रहा है वहीं दूसरी तरफ कई राज्यों द्वारा मानव तस्करी को रोकने के लिए कई एक्शन प्लान बनाये गए हैं जिन पर जोरों से काम भी किया जा रहा है |

देश की सरकार तो अपना काम कर ही रही है किन्तु यदि मानव तस्करी को भारत से ख़त्म करना है तो भारत के प्रत्येक नागरिक को इसके लिए काम करना होगा | यदि भारत का प्रत्येक नागरिक बस अपने क्षेत्र में जागरूक हो जाए तो भारत से मानव तस्करी का नाम मिटाया जा सकता है |

Human Trafficking को ख़त्म करने में आप कैसे सहयोग करेंगे ?

  • सुनिश्चित करें कि आपके क्षेत्र में कोई गलत या अपराधिक कार्य तो नहीं हो रहा है, यदि हो रहा है तो उसकी सूचना तुरन्त सम्बंधित थाने को दें
  • बच्चों द्वारा यदि आप भीख मांगते हुए देखते हैं तो सर्वप्रथम उसके भीख मांगने का कारण जानने का प्रयास करें, कहीं वह बच्चा किसी की जोर जबरजस्ती की वजह से तो भीख नहीं मांग रहा है, यदि हाँ तो सम्बंधित थाने में उसकी सूचना दें
  • यदि आपके आस पास कोई नाबालिग बच्चा मजदूरी कर रहा है तो वह भी मानव तस्करी का शिकार है
  • यदि आपको किसी पर शक होता है कि वह मानव के अंगों के साथ छेड़छाड़ कर रहा है या अंगों का व्यापार कर रहा है तो तुरन्त इसकी सूचना सम्बंधित थाने को दें
  • यदि आपके क्षेत्र में कोई नशीली दवाइयां या कोई भी नशीला पदार्थ बेचता है तो उसकी भी सूचना सम्बंधित थाने को अवश्य दें
  • देह व्यापार या कहें वैश्यावृति Human Trafficking का सबसे बड़ा हिस्सा है, 80 % मानव तस्करी जिस्मफरोशी के लिए की जाती है, यदि आप इस तरह का कोई आपत्तिजनक कार्य देखते हैं तो उसकी सूचना अवश्य दें | यह आपका Human Trafficking को नियंत्रित करने में बहुत बड़ा योगदान होगा

IPC Section 370 (मानव तस्करी की धारा)

यदि कोई व्यक्ति Human Trafficking के केस में पकड़ा जाता है तो उस पर मानव तस्करी की धारा IPC Section 370 के तहत 7 वर्ष की सजा जो कि 10 वर्ष तक बढाई जा सकती है तथा आर्थिक दंड से दंडित किया जाता है |

ipc section 370

यदि कोई आरोपी 1 मानव से अधिक की तस्करी या फिर नाबालिग की तस्करी के आरोप में पकड़ा जाता है तो उस पर कठोर कार्यवाही करते हुए 10 वर्ष की सजा सुनाई जाती है जो बढ़कर आजीवन कारावास भी हो सकती है और साथ में उसे आर्थिक रूप से भी दंडित किया जाता है |

धारा 370 से सम्बंधित अधिक जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करें-

IPC Section 370

उम्मीद करते हैं कि Human Trafficking से सम्बंधित उपरोक्त जानकारी आपको पसन्द आई होगी, आपसे गुजारिश है कि इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि भारत में मानव तस्करी को नियंत्रित किया जा सके |

Previous articleGST क्या है in Hindi और जीएसटी कितने प्रकार के होते हैं ?
Next article1 & only Best Security Camera for home

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here