What is G20 [The Ultimate Guide to G20 Summit in Hindi] – Empower Your Knowledge Today!

430

क्या आप जानते हैं G20 क्या है और कैसे काम करता है (What is G20 in Hindi)?, G20 का मतलब क्या होता है, G20 में कितने देश हैं और क्या भारत G20 का सदस्य है , G 20 की स्थापना कब और कहाँ हुई और G20 का उद्देश्य क्या है? उपरोक्त सवालों में से यदि आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप बिल्कुल सही आर्टिकल में पहुँच गए हैं क्योंकि यहाँ पर आपको प्रत्येक सवाल का विस्तारपूर्वक जबाब मिलने वाला है |

इस लेख में आपको इससे सम्बंधित प्रत्येक सवाल जैसे What is G20 Summit, G20 Countries (How many Countries in G20), G 20 Headquarters, G20 Full Form इत्यादि के जबाब मिलने वाले हैं |

जी 20 क्या है (What is G20 in Hindi)?

जी 20 (G20) एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन है जिसमें विश्व के चुनिंदा 20 देश शामिल होते है | इस संगठन का उद्देश्य विश्व अर्थव्यवस्था और वित्तीय नीति को समझौतों के माध्यम से नियंत्रित करना होता है| इसमें गणतंत्र, आरबीआई और संयुक्त राष्ट्र जैसे अन्य अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के नेतृत्व वाले देश शामिल होते हैं | G20 के सदस्य देश विश्व की कुल जनसंख्या के लगभग 2/3, विश्व जीडीपी के करीब 90%, और विश्व व्यापार के लगभग 80% को धारण करते हैं।|

What is G20 summit in Hindi

G20 का पहला सम्मेलन 2008 में हुआ था जब विश्व अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण बदलाव आए थे | इस सम्मेलन के माध्यम से ग्रीष्मकालीन वित्तीय संकट का सामना करने के लिए विभिन्न देशों का सहयोग लिया जाना था | इसके बाद से हर वर्ष G20 का सम्मेलन आयोजित होता रहा है जिसमें संयुक्त राष्ट्र और अन्य अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के नेतृत्व वाले देशों के बीच महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की जाती है |

G20 में कितने देश हैं (How many Countries in G20) और क्या भारत G20 का सदस्य है?

उपरोक्त आपने जाना कि What is G20, लेकिन क्या आप जानते हैं कि G20 में कितने देश शामिल हैं? जानने के लिए लेख को आगे पढ़ते रहें –

जी हाँ, G20 के 20 देशों में से भारत भी G 20 का एक हिस्सा है जो कि भारत को गौरान्वित करता है और भारत के अलावा G20 के अन्य सदस्य देश निम्नलिखित हैं: अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ़्रांस, जर्मनी, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मेक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, तुर्की, यूनाइटेड किंगडम, और अमेरिका

G20 के सम्मेलनों में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की जाती है, जैसे अर्थव्यवस्था, वित्तीय नीति, विश्व व्यापार, अधिकार और संस्कृति, वैश्विक सुरक्षा आदि | G20 के सदस्य देश नेतृत्व और सहयोग के माध्यम से अर्थव्यवस्था और संबंधित मुद्दों पर गहरी चर्चा करते हुए, संयुक्त रूप से कुछ निर्णय लेते हैं जो विश्व अर्थव्यवस्था के विकास और सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण होते हैं |

ग्रीष्मकालीन वित्तीय संकट के समय से लेकर वर्तमान समय तक, G20 सम्मेलनों ने विश्व अर्थव्यवस्था के विभिन्न मुद्दों पर ध्यान केंद्रित किया है | कुछ मुख्य उद्देश्यों में विश्व व्यापार, सुरक्षा और आतंकवाद, बाहरी देशों से आय और विदेशी निवेश शामिल हैं | ग्रीष्मकालीन वित्तीय संकट समय से लेकर G20 ने आज तक कई उपलब्धियां हासिल की हैं और आगे भी अर्थव्यवस्था के मुद्दों पर ध्यान केंद्रित करते रहेंगे |

G 20 की स्थापना कब और कहाँ हुई?

G 20 की स्थापना 1999 में, एक बैंक के मुख्यालय के रूप में प्रस्तावित की गई थी, लेकिन इसकी आधिकारिक स्थापना 2008 में वाशिंगटन डी.सी., अमेरिका में हुई थी | G20 अब दुनिया के सबसे बड़े और आर्थिक रूप से अधिकांश देशों के नेताओं की एक समूह है जो आर्थिक मुद्दों पर संयुक्त रूप से विचार-विमर्श करते हैं और विश्व अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए निर्णय लेते हैं |

G20 का उद्देश्य क्या है?

G20 का मुख्य उद्देश्य विश्व अर्थव्यवस्था को सुधारना और सुरक्षित बनाना है | इसके लिए, G20 दुनिया के 19 अर्थव्यवस्था के प्रमुख देशों के साथ यूरोपीय संघ भी शामिल होता है | यह एक मंच है जहां देशों के नेता संयुक्त रूप से बैठकर विश्व अर्थव्यवस्था से जुड़े मुख्य मुद्दों पर चर्चा करते हैं और विभिन्न मामलों में सहयोग करते हैं |

G20 का मुख्य ध्येय दुनिया भर में स्थायी और समृद्ध आर्थिक विकास को बढ़ावा देना है | इसके अलावा, G20 दुनिया भर में विभिन्न मुद्दों जैसे अर्थव्यवस्था, संगठनतांत्रिक विकास, संगठन और संरक्षण, व्यापार और निवेश, क्लाइमेट चेंज और आतंकवाद जैसे मुद्दों पर विचार-विमर्श करते हुए संयुक्त निर्णय लेते हैं |

G 20 कैसे काम करता है ?

G20 एक 20 देशों का समूह है जो विश्व अर्थव्यवस्था से जुड़े मुख्य मुद्दों पर संयुक्त रूप से विचार-विमर्श करते हैं और संयुक्त निर्णय लेते हैं |

  • G20 एक वार्षिक सम्मेलन आयोजित करता है, जहां देशों के नेता संयुक्त रूप से एक साथ बैठकर मुख्य मुद्दों पर चर्चा करते हैं | इसके अलावा, G20 के तहत कई उपक्रम होते हैं जैसे विभिन्न मंत्रालयों और आयोगों की अधिवेशनाएं, स्पेशल एनवायरनमेंट ग्रुप्स, शोध नेटवर्क और कई अन्य |
  • G20 के सदस्य देशों के बीच विश्व अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए निर्णय लिए जाते हैं, जो उनके अनुसार विभिन्न विषयों पर हो सकते हैं | ये निर्णय अधिकतर देशों के लिए संविधान बदलने की आवश्यकता नहीं होती है, लेकिन वे स्थायी रूप से इस विषय पर चर्चा करने और समझौते पर आधारित होते हैं |
  • गणतंत्र में, G20 के नेता संयुक्त रूप से आगे बढ़कर अपने देश के लिए निर्णय लेने के लिए सम्मेलन के दौरान एक संयुक्त बयान भी जारी किया जाता है जो विश्व अर्थव्यवस्था के मुख्य मुद्दों पर नज़रअंदाज़ नहीं करता | इस बयान के माध्यम से, संयुक्त रूप से देशों की पहल परिभाषित की जाती है जो अर्थव्यवस्था के विभिन्न क्षेत्रों में सुधार के लिए किए जाने वाले निर्णयों को समर्थन करते हैं |
  • G20 के सदस्य देश विभिन्न विषयों पर विस्तृत रूप से चर्चा करते हैं जैसे कि विश्व अर्थव्यवस्था, वित्तीय निवेश, वित्तीय सेवाएं, कृषि नीति, ऊर्जा नीति, टैक्सेशन और वित्तीय निर्देशिकाएं | इन चर्चाओं के माध्यम से, G20 के सदस्य देश अपने अंतर्राष्ट्रीय नीति में विश्वसनीयता को सुधारते हुए विभिन्न मुद्दों पर एक मजबूत समझौता बनाते हैं |
  • इसके अलावा, G20 अन्य अंतर्राष्ट्रीय संगठनों, जैसे कि विश्व व्यापार संगठन, विश्व बैंक और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष जैसे संगठनों के साथ भी संबद्ध होता है ताकि इसके द्वारा उठाए गए निर्णयों को आगे बढ़ाया जा सके | इसके अलावा, G20 के सदस्य देश अपने अंतर्राष्ट्रीय संबंधों को मजबूत करने के लिए भी सहयोग करते हैं | वे आम रूप से अपने व्यापार व्यवहार को सुधारने, वित्तीय नियंत्रण में सहयोग करने और अन्य मुद्दों पर सहमति बनाने में सहमत होते हैं |
  • G20 देशों के नेतृत्व में होने के कारण, यह संगठन विश्व अर्थव्यवस्था की मुख्य गतिविधियों में से एक है और इसके निर्णयों का महत्व विश्व स्तर पर होता है | G20 ने अपने कार्यकाल के दौरान कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं जैसे कि वित्तीय सेवाओं को सुधारने, अर्थव्यवस्था की मजबूती और अर्थव्यवस्था को जीवनशैली के साथ जोड़ने जैसे मुद्दों पर ध्यान केंद्रित किया है |

इस प्रकार, G20 एक महत्वपूर्ण संगठन है जो विश्व अर्थव्यवस्था के मुख्य मुद्दों पर चर्चा करता है और उन्हें समाधान के लिए निर्णय लेता है |

Conclusion

सामान्य तौर पर, G20 दुनिया के 20 सबसे बड़े और महत्वपूर्ण अर्थव्यवस्थाओं के संघ के रूप में जाना जाता है जो विश्व अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने और इसे सुधारने के लिए सहयोग करते हैं |

इस संगठन के निर्णय विश्व स्तर पर महत्वपूर्ण होते हैं और इन्हें अर्थव्यवस्था के मुख्य मुद्दों पर चर्चा करने और निर्णय लेने के लिए लिया जाता है | G20 देशों के अर्थव्यवस्थाओं को सुधारने और मजबूत करने के लिए सहयोग करता है और विभिन्न अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर समाधान खोजने का प्रयास करता है |

आशा करते हैं कि उपरोक्त यह लेखWhat is G20 [The Ultimate Guide to G20 Summit in Hindi] – Empower Your Knowledge Today!आपको पसंद आया होगा और आपको थोड़ी जानकारी मिल पायी होगी जहाँ पर हमने आपको What is G20 जैसी मुख्य जानकारी के साथ साथ सम्बंधित प्रत्येक जानकारी देने का प्रयास किया है | यदि आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो इस लेख को शेयर अवश्य करें क्योंकि आपका 1 शेयर भी ह्जमारे लिए बहुत कीमती है और इस कारण यह है कि जब आप हमारे आर्टिकल्स शेयर करते हैं तो हमें इस तरह के अन्य आर्टिकल्स को लिखने की प्रेरणा और प्रोत्साहन मिलता है और हम आपके लिए उपयोगी लेख लिखते रहते हैं |

What is G20 (Wikipedia)

Previous articleHow to Quick Fix Error “WhatsApp Web No Valid QR code detected” ~ Step-by-Step Effortless Process
Next articleEmpower Yourself with the Knowledge of Social Justice: Definition, Importance, Impact and Inspiring Examples

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here