What are Cyber Crimes in Hindi और इससे कैसे बचें ?

What are Cyber Crimes यह जान लेना आज के समय में इतना जरूरी हो गया है जितना कि कपडे पहनना क्योंकि साइबर क्राइम भारत में ही नहीं अपितु सम्पूर्ण विश्व में समस्या का विषय बन गया है और दुनिया भर की सुरक्षा और जाँच एजेंसियों के साथ साथ इससे एक आम आदमी भी प्रभावित हो रहा है |

इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि साइबर क्राइम क्या है, साइबर क्राइम्स कौन-कौन से होते हैं (What are Cyber Crime), इनसे कैसे बचा जा सकता है और यदि आप इसके शिकार हो चुके हैं तो उस स्थिति में आप क्या करें तथा अन्य कई सम्बंधित जानकारियां | यदि आप भी Cyber Crime से सम्बंधित जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें |

साइबर क्राइम क्या है (What is Cyber Crime in Hindi)

किसी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस और इन्टरनेट की मदद लेकर अपराध (जैसे Hacking, Phishing एवं spamming) इत्यादि करना Cyber Crime कहलाता है और इस अपराध को करने वाले Cyber Criminals कहलाते हैं | Cyber Crime को करने के लिए अपराधी पहले इन्टरनेट से बहुत सारी इनफार्मेशन collect करते हैं और उसके बाद fraud करते हैं |

Cyber Crime के अन्दर होने वाले fraud कई प्रकार जैसे OTP मांगकर खाते से पैसे निकाल लेना, पोर्न वीडियोज के आधार पर  ब्लैकमेल करना इत्यादि हो सकते हैं | बैंक से पैसे चुराना भारत में अब आम बात हो गयी है क्योंकि क्रिमिनल्स के द्वारा user से किसी न किसी प्रकार OTP ले ही लिया जाता है (OTP एक high security password होता है) और उसके खाते से सारे पैसे चुरा लिए जाते हैं |

हमारे भारत की जनता बहुत ही भोली और मासूम है जब उन्हें Cyber Criminals द्वारा फ़ोन करके OTP की मांग की जाती है तो कई लोग उनके झांसे में आकर अपना वह high security password क्रिमिनल्स को दे देते हैं जिससे वे Cyber Crime का शिकार हो जाते हैं |

यह भी जानिये : Human Trafficking in India- मानव तस्करी क्या है और क्या हैं मानव तस्करी के कारण

साइबर अपराध के प्रकार (What are Cyber Crimes) ?

यदि बात की जा रही हो what are cyber crimes  की तो साइबर क्राइम्स निम्न प्रकार के हो सकते हैं  –

  1. Online & Social Media Related Crime
  2. Online Financial fraud
  3. Hacking
  4. Online Cyber Trafficking’s
  5. Online Gambling
  6. Ransomware
  7. Cryptocurrency Crime
  8. Cyber Terrorisms

साइबर क्राइम का शिकार होने पर complain कैसे करें [Complain Cyber Crime] ?

उपरोक्त आर्टिकल में आप ने जाना कि साइबर क्राइम किस-किस प्रकार से हो सकते हैं (what are cyber crimes) और अब आप जानेंगे कि यदि आप साइबर क्राइम के शिकार हो गए हैं तो उस स्थिति में क्या करें ? आज के समय में साइबर क्राइम का शिकार होने कोई बड़ी बात नहीं है, एक अच्छा खासा पढ़ा लिखा इंसान भी इसका शिकार हो सकता है | इसके पीछे कारण यह है कि सभी साइबर क्रिमनल्स बड़े ही सातिर होते हैं और ऐसा जाल बिछाते हैं कि एक आम नागरिक जब तक उस जाल को समझ पाए वे क्रिमनल्स अपना काम कर जाते हैं |

यदि जब आप साइबर क्राइम का शिकार हो ही गए हैं तो आपका सबसे पहला काम यह होना चाहिए कि आप इस क्राइम के खिलाफ complain करें ताकि जल्द से जल्द उस साइबर अपराधी को पकड़ने का प्रयास किया जा सके |

भारत सरकार के गृह मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय साइबर अपराध रिपोर्टिंग पोर्टल बनाया गया है जहाँ पर आप online माध्यम से किसी भी प्रकार के साइबर अपराध सम्बन्धी मामले दर्ज करवा सकते हैं |

  • ऑफिसियल वेबसाइट cybercrime.gov.in पर जाएँ
  • Home Page पर File a Complaint पर click करें
  • Privacy Policy पढ़कर I Accept पर click करें
  • चयन करें कि आपको किस प्रकार के साइबर क्राइम से सम्बंधित complaint करनी है
  • Log in करने के लिए आपको रजिस्ट्रेशन करना होता है, रजिस्ट्रेशन करने के लिए basic details भरें और submit कर दें
  • Log in करने के बाद User Profiles Details भरें
  • सम्पूर्ण जानकारी fill करने के बाद आप अपनी complaint विस्तारपूर्वक भरकर जमा कर सकते हैं
  • उसके बाद ही Action लिया जाएगा

Cyber Crime Helpline Number क्या है ?

Helpline Number : 155260

Cyber Crime Helpline Number

यदि आप दिल्ली, राजस्थान, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, असम, तमिलनाडु या आंध्र प्रदेश में से किसी एक राज्य से हैं तो आप उपरोक्त हेल्पलाइन नम्बर में कभी भी सम्पर्क कर सकते हैं किन्तु यदि आप उपरोक्त के अलावा अन्य कई राज्य से हैं तो आप हेल्पलाइन नम्बर पर प्रातः 10 बजे से सायं 6 बजे तक संपर्क कर सकते हैं और अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं एवं अन्य कई सम्बंधित जानकारियां ले सकते हैं |

साइबर अपराधों से बचने के लिए क्या करें, क्या ना करें ?

क्या करें ?

  1. यदि आप कोई एप्लीकेशन एवं सॉफ्टवेयर डाउनलोड कर रहें हैं तो पहले यह सुनिश्चित करें कि उसका श्रोत विस्वश्नीय है
  2. अपने कम्प्यूटर के ऑपरेटिंग सिस्टम, सभी एप्लीकेशन एवं सॉफ्टवेयर को नियमित रूप से update करें
  3. कंप्यूटर में save महतवपूर्ण डेटा का समय-समय पर बैकअप लेते रहें
  4. Computer Firewall को हमेशा “ON” रखें
  5. प्रयास करें कि आप जिन सॉफ्टवेयर का प्रयोग कर रहे हों वो सभी लाइसेंस रहित हों
  6. यदि आप pend rive जैसी extremal श्रोतों का प्रयोग करते हैं तो प्रयोग से पहले उन्हें SCAN अवश्य करें
  7. यदि आप remote connection और file sharing के लिए कोई एप्लीकेशन use करते हैं तो अनावश्यक होने पर use बंद कर दें

क्या ना करें ?

  1. किसी भी सॉफ्टवेयर तथा एप्लीकेशन की पायरेटेड कॉपी का इस्तेमाल ना करें
  2. जिन पासवर्ड का आप प्रयोग करते हैं वह कमजोर ना हों, जैसे Test@123
  3. अविश्विस्नीय pop-up पर click ना करें, click करने से पहले सुनिश्चित करें कि वह pop-up अनजान नहीं है
  4. यदि हार्ड ड्राइव और मेमोरी कार्ड जैसे external device का काम नहीं रहा है तो उन्हें dispose करने से पहले डेटा को delete करें

उम्मीद करते हैं कि What are Cyber Crimes से सम्बंधित उपरोक्त जानकारी आपको पसंद आई होगी क्योंकि इस आर्टिकल में हमने सम्बंधित हर प्रकार की जानकारी को अपने readers तक पहुँचाने का प्रयास किया है | यदि आपको यह जानकारी पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि भारत के अन्य नागरिक भी साइबरअपराध से बाख सकें |

[su_divider]

Previous articleHow to Join Indian Army : Brave / Fearless people join the Army
Next articleHow to be a Travel Blogger in India – Basic Information

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here