Vehicle Scrappage Policy : 1 अक्टूबर 2021 से लागू हो जायेगी स्क्रैप पौलिसी

जैसा कि आप जानते ही होंगे कि प्रत्येक क्षेत्र में उनसे सम्बंधित तरह तरह की नीतियाँ बनाई जाती हैं और समय समय पर उनमें बदलाव किये जाते रहते हैं |आज के लेख में हम बात करने वाले हैं Vehicle Scrappage Policy की जिसे हाल में ही प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी जी के द्वारा लांच किया गया है | यह नीति vehicle scrap से सम्बंधित है और इसे 1 अक्टूबर 2021 से लागू किया जा रहा है | यदि आप भी Vehicle Scrappage Policy से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी चाहते हैं तो इस लेख को अन्त तक जरूर पढ़ें |

Vehicle Scrappage Policy kya hai / क्या है व्हीकल स्क्रैपेज पॉलिसी ?

Vehicle Scrappage Policy के अन्तर्गत जिन वाहनों की आयु 15 और 20 साल हो गयी है उन्हें इस पॉलिसी के आधार पर कबाड़ घोषित कर दिया जायेगा | निजी वाहनों के लिए यह आयु 20 वर्ष और कॉमर्सियल वाहनों के लिए 15 वर्ष है | इस पॉलिसी का एलान करते हुए सरकार द्वारा वाहन विक्रेताओं को यह आदेश दिए गए हैं कि यदि कोई ग्राहक स्क्रेपिंग सर्टिफिकेट दिखाता है तो उसे नए वाहन में 5 प्रतिशत की आवश्यक छूट दी जाये |

स्क्रैप पॉलिसी क्या है ?

प्रधानमन्त्री मोदी जी द्वारा कहा गया कि Vehicle Scrappage Policy ऑटोमोबाइल सेक्टर की ओर से देश की अर्थव्यवस्था के लिए एक बड़ा रोल निभाएगी और आर्थिक विकास में काफी मददगार साबित होगी |

Vehicle-Scrappage-Policy

Vehicle Scrappage Policy के शुरू होने के बाद लोगों को मिलेगा रोजगार

जैसा कि केंद्रीय मन्त्री नितिन गडकरी जी ने बताया कि इस पॉलिसी (Scrap Policy 2021 in Hindi) के शुरू होने के बाद पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के आधार पर नए ऑटोमेटिक टैस्ट सेंटर तथा स्क्रैप सेंटर खोले जायेंगे जहाँ पर आपकी गाडी का फिटनेस टैस्ट हो सकेगा और स्क्रैप सेंटर में गाडी डिस्ट्रॉय करने के बाद आपको स्क्रैप सर्टिफिकेट दिया जाएगा | इस प्रक्रिया को करने से पहले आपका आधार कार्ड और गाडी की आर सी आपसे मांगी जाएगी जिसे दिखने के बाद ही प्रक्रिया प्रारम्भ की जाएगी |

उपरोक्त से पता लगाया जा सकता है कि किस प्रकार का रोजगार आप प्रारम्भ कर सकते हैं, आप अपनी सुविधानुसार सम्बंधित कोई भी रोजगार प्रारम्भ कर सकते हैं | यदि हम उदाहरण की बात करें तो आप ऑटोमेटिक टैस्ट सेंटर का संचालन कर सकते हैं या फिर आप स्क्रैप सेंटर भी खोल सकते हैं | यदि यह आपके लिए मुमकिन ना हो तो आप इनमे दैनिक आधार पर कोई भी कार्य कर सकते हैं | Vehicle Scrappage Policy प्रारम्भ होने के बाद आप रोजगार का कोई भी जरिया चुन सकते हैं |

यदि आप अपनी कार को स्क्रैप में दे रहे हैं तो आपको मिलेंगे क्या-क्या फायदे ?

  1. गाडी को स्क्रैप में देने पर आपको एक सर्टिफिकेट दिया जाएगा और यदि आप कोई नया वाहन खरीदते हैं और आपके पास यह सर्टिफिकेट है तो आपको रजिस्ट्रेशन का पैसा नहीं देना पड़ेगा |
  2. सर्टिफिकेट होने पर रोड टैक्स में छूट दी जायेगी |
  3. परोक्ष रूप से (indirectly) यदि देखा जाए तो इसका सबसे बड़ा फायेदा तो आपको यह मिलेगा कि आप पुरानी गाडी की मेंटिनेंस तथा रिपेयरिंग कॉस्ट से बच जायेंगे |
  4. समय से ज्यादा पुरानी गाडी मनुष्य के जीवन के लिए ज्यादा खतरनाक साबित हो सकती है क्योंकि जैसे-जैसे समय बीतता रहता है वैसे- वैसे टेक्नोलॉजी (टेक्नोलॉजी क्या है ?) में भी सुधार होता रहता है और पुराणी गाड़ियाँ आउट डेटेड होने की वजह से ख़राब होने लगती हैं |

उम्मीद करते हैं कि उपरोक्त जानकारी आपके काम आ सकेगी, यदि आपको यह जानकारी पसन्द आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें | टेक्नोलॉजी, कंप्यूटर, बायोग्राफी, अमेजिंग फैक्ट्स तथा how to Queries जानने के लिए आपकी अपनी वेबसाइट http://explanationinhindi.com/ को visit करें, इस वेबसाइट में उपरोक्त विषयों से सम्बंधित हर प्रकार की जानकारी को  हिन्दी भाषा में देने का प्रयास किया जाता है |

यह भी पढ़िए : irctc login id and password – बस 1 आर्टिकल में IRCTC से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी

Previous articleirctc login id and password भूल गए हैं तो इस 1 आर्टिकल को पढ़कर जानें कैसे recover करें ?
Next articleBiography of Atal Bihari Vajpayee in Hindi || अटल बिहारी बाजपेयी जीवन परिचय

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here