Hockey Olympics 2021 : 49 साल बाद भारतीय हॉकी टीम ब्रिटेन को हराकर पहुंची सेमीफाइनल में

Hockey Olympics 2021 : जैसा कि आप जानते ही होंगे टोक्यो ओलंपिक 2020 में विश्व भर के खिलाड़ी तथा कई देशों की टीमों ने तरह तरह के खेलों में अपनी प्रतिभागिता दाखिल करवाई है और प्रत्येक देश इसमें बढ़ चढ़ कर हिस्सा ले रहा है | आज के लेख में हम बात करने वाले हैं Hockey Olympic 2021 के बारे में |

हॉकी के खेल में भारतीय हॉकी टीम नें भी हिस्सा लिया था जिसने सेमीफाइनल में पहुँच कर एक नया इतिहास रच दिया है | इतिहास इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि 49 बर्षों बाद यह दिन आया है कि भारतीय हॉकी टीम सेमी फाइनल में पहुंची है | यह मैच भारतीय टीम ने ब्रिटेन के खिलाफ खेला था और अपने अच्छे प्रदर्शन की वजह से भारतीय टीम ने ब्रिटेन की टीम को हराकर सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाई |

यह भी पढ़िए – P V Sindhu Biography in Hindi : पी वी सिंधु बनी 2 ओलंपिक पदक जीतने वाली पहली (1st) भारतीय महिला

Highlight : 49 वर्षों बाद भारतीय हॉकी टीम ने ब्रिटेन को हराकर सेमीफाइनल में बनाई अपनी जगह 

Tokyo Olympics : सेमीफाइनल में 3 अगस्त को बेल्जियम के साथ होगा भारतीय हॉकी टीम का सामना

भारतीय हॉकी टीम के गोलकीपर पी आर श्रीजेश ने  शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए एक बार फिर से यह साबित कर दिया है कि जो उन्हें “भारतीय दीवार” का नाम दिया गया था वह निर्णय बिलकुल भी गलत नहीं था | भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने पिछले मैच में खूबसूरत प्रदर्शन कर ग्रेट ब्रिटेन की हॉकी टीम को 3-1 से हराकर सेमीफाइनल में अपनी जगह बना ली है | सेमीफाइनल का यह मैच 3 अगस्त 2021 को सुबह 7:30 बजे खेला जाएगा | सेमीफाइनल के इस मैच में भारतीय हॉकी टीम का सामना बेल्जियम हॉकी टीम से होगा |

यह भी जानिये : Mirabai Chanu Biography in Hindi :ओलंपिक में सिल्वर मैडल जीतने वाली भारत की 1st भारोत्तोलन खिलाड़ी

Hockey Olympics 2021 : भारतीय टीम ने किया अच्छा प्रदर्शन

ग्रेट ब्रिटेन के साथ खेले गए मैच में भारत की टीम पहले दो क्वार्टर में दो गोल के साथ शुरुआत से ही आगे रही और सामना करते हुए ग्रेट ब्रिटेन ने वापसी करने की बहुत कोशिश की, लेकिन भारतीय गोलकीपर पीआर श्रीजेश (भारतीय दीवार ) को भेदने में असमर्थ रहे |

hockey-olympic-2021

भारत ने दिलप्रीत सिंह (7वें मिनट), गुरजंत सिंह (16वें मिनट) और हार्दिक सिंह (57वें मिनट) के जरिए तीन फील्ड गोल दागे और ग्रेट ब्रिटेन  के खिलाफ अपनी जीत दर्ज करवाई |इउस खेल में  हताश ग्रेट ब्रिटेन का एकमात्र गोल 45वें मिनट में हुआ था |

भारतीय टीम ने कुल खेले गए छह मैचों में से पांच मैच जीते हैं। इस खेल से पहले, भारत द्वारा ओलंपिक में आठ बार ग्रेट ब्रिटेन के साथ  खेला था, जिसमें चार मैच में जीत हासिल की थी और 4 मैच हार गए थे ।

30 जुलाई को टोक्यो ओलंपिक में भारतीय टीम ने जापान को 5-3 से हराया था और मेगा इवेंट में भारत की यह चौथी जीत थी। जापान की टीम  ने तीन गोल किए फिर भी भारतीय टीम को हरा ना सके |

भारतीय टीम पिछली बार 1972 के म्यूनिख खेलों में ओलंपिक के सेमीफाइनल में खेली थी। लेकिन वे कट्टर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से 0-2 से हार गए।
ओलंपिक में, भारतीय हॉकी टीम ने अब तक आठ स्वर्ण पदक जीते हैं, जिसमें आखिरी बार 1980 के मास्को खेलों में खेला गया था। हालांकि, उसके बाद से भारतीय हॉकी के प्रदर्शन में गिरावट आई है। 1984 के लॉस एंजिल्स ओलंपिक में भारतीयों ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन – पांचवां स्थान – दर्ज किया।

स्वर्ण पदक जीतने पर हॉकी खिलाडियों को दिया जाएगा ₹2.25 करोड़ का इनाम

Hockey Olympics 2021 : 30 जुलाई को, पंजाब के खेल और युवा सेवा मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी ने घोषणा की है कि टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाले राज्य के हॉकी खिलाड़ियों को अब टीम स्वर्ण पदक जीतने पर व्यक्तिगत रूप से ₹ ​​2.25 करोड़ रूपए का इनाम दिया जाएगा । इससे पहले पूरी टीम को स्वर्ण पदक जीतने के लिए ₹2.25 करोड़ की राशि दी गई थी।
राणा सोढ़ी ने कहा कि “पंजाब के कुल 20 खिलाड़ियों में से 11 खिलाड़ी टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाली भारतीय हॉकी टीम में अपना सर्वश्रेष्ठ दे रहे हैं।” उन्होंने उम्मीद जताई कि देश ओलंपिक में 3 से 4 पदक अवश्य जीतेगा |

उम्मीद करते हैं कि Hockey Olympics 2021 से सम्बंधित यह लेख आपको पसन्द आया होगा | आपसे गुजारिश है कि यदि आपको यह लेख पसन्द आया तो इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें | टेक्नोलॉजी, कंप्यूटर, बायोग्राफी, अमेजिंग फैक्ट्स तथा how to Queries जानने के लिए आपकी अपनी वेबसाइट http://explanationinhindi.com/ को visit करें, इस वेबसाइट में उपरोक्त विषयों से सम्बंधित हर प्रकार की जानकारी को  हिन्दी भाषा में देने का प्रयास किया जाता है |

 

Previous articleP V Sindhu Biography in Hindi : पी वी सिंधु बनी 2 ओलंपिक पदक जीतने वाली पहली (1st) भारतीय महिला
Next articleAmazing facts in hindi about life : जीवन से सम्बंधित 20 ऐसे तथ्य जिन्हें पढ़कर आप रह जायेंगे दंग

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here